मेटावर्स क्या है? what is metaverse? metaverse ke bare main explained in hindi




what is metaverse?

ये मेटावर्स क्या है? केसा होगा ? हमारे किस काम का ? अगर आपके मन में इस तरह के कई सवाल चल रहे हैं तो इस मेटामित्र चैनल के हर एक वीडियो को शांति से देखते रहें। बहोत कुछ नया जानने को मिलेगा।  Metamitra Blog में आपका स्वागत हे.  तो आइए जानते हैं मेटावर्स के बारे में।

मेटावर्स एक 3D आभासी दुनिया है जिसे 3D वर्चुअल विश्व (3D virtual world) के नेटवर्क के रूप में भी जाना जाता है। इसको बनानेवाले इंजीनियर्स  इसे अपनी कल्पना के अनुसार बनाते है। इसमें हम अपने अवतार को धारण करके यानी हम अपनी पसंदीदा 3डी तस्वीर, जैसे कि हमारी डिजिटल मूर्ति या कार्टून को अपने अवतार के रूप में चुनकर इसमें प्रवेश कर सकते हैं। 

वहाँ जा सकते है,  हम अपने दोस्तों को भी बुला सकते हैं, नए दोस्त बना सकते हैं, उनसे बात कर सकते हैं, नई जगहों का पता लगा सकते हैं, सब मिलकर गेम खेल सकते हैं, डीजे पार्टी भी कर सकते हैं


अगर आपने अवतार, रेडी प्लेयर वन, TRON, थर्टींथ फ्लोर, डार्क सिटी, मैट्रिक्स जैसी अंग्रेजी फिल्में देखी हैं तो आप को कुछ अंदाज़ा जाएगा।  अब ये सोचिए के अगर आप ऐसी ही कोई फिल्म में अपना अवतार यानि कैरेक्टर चुनकर हिस्सा ले सकें तो कितना मज़ा आएगा ?



नई पीढ़ी के बच्चों को तो पता ही होगा की Ro blocks और Minecraft गेम में वे अपनी पसंद की दुनिया बना सकते हैं। और उसमे खेल सकते हैं   

अगर आपने पबजी या फ्री फायर जैसी  गेम खेली है तो आपको पता होगा की कैसे अपने कैरेक्टर या अवतार को सेलेक्ट करके गेम खेल सकते हैं , ठीक वैसे ही आप मेटावर्स में भी होता हे. लेकिन यहाँ एक नई तरह की अर्थव्यवस्था सिस्टम भी होगी जिसमें आप चीजें बनाकर और बेचकर पैसा कमा सकते हैं। आप गेम खेल कर  पॉइंट्स इकट्ठा करके कमा सकते हैं। आप अपनी स्कील और महेनत के दम पर, नए नए आइडिया लगाकर  भी अर्निंग कर करते हैं। उदाहरण के तौर पर यदि आपने कोई गेम में एक स्पेशल गन, जैकेट, गॉगल्स या बाइक बनाई खरीदी है, तो आप इसे दूसरे गेम में ले जा सकते हैं और आप इसे वहां बेच सकते हैं। लेकिन हां मेटावर्स किसी गेम तक सीमित नहीं है। हमारी तरह ही एक आभासी दुनिया होगी। जिस तरह हमारे ब्रह्मांड में कई ग्रह हैं, उसी तरह मेटावर्स में एक साथ कई 3D वर्चुअल वर्ल्ड हो सकते हैं। 

मेटा का अर्थ है परे, उसपार, यूनिवर्स शब्द की तरह ही एक मेटावर्स शब्द है जिसे पहली बार 1992 में नील स्टीफेंसन ने अपने नॉवेल  स्नो क्रैश में लिखा था। अक्टूबर 2021 में, फेसबुकने कंपनी का नाम  मेटा कर  लिया। यह कंपनी एक नया मेटावर्स यानी 3डी वर्चुअल वर्ल्ड बनाने की भी तैयारी कर रही है और इसके लिए दुनिया के बेहतरीन इंजीनियरों की टीम के साथ कर रही है। यह कम्पनी के इंजीनियर केसा मेटावर्स बनाने वाले हे यह आप meta.com पर देख सकते हैं। 

दूसरी और Microsoft ने भी एक गेमिंग कंपनी Activision Blizzard को खरीद लिया है। उनका प्लान शायद उनका वर्चुअल विश्व बनाने का हो सकता हे।

आइए अब देखते हैं वर्चुअल रियलिटी गेमिंग मेटावर्स का अनुभव करने के लिए ऐसा एक गेजेट भी है। ज्यादा जानकारी के लिए लिंक https://amzn.to/3uw0sMa   और https://amzn.to/3ATn8Hq हे|   इस गैजेट के साथ, आप वर्चुअल गेमिंग मेटावर्स के नए अनुभवों का आनंद ले सकते हैं।


इतना जानने के बाद आपको यह भी विचार आए के ऐसे मेटावर्स का क्या उपयोग है? हमारे किस काम का ? तो अभी इतना ही जान लो ... सालों पहले रेडियो, टीवी, फोन और फिर इंटरनेट नया था और तब भी लोग यही सोच रहे थे कि इसके बिना भी जीवन चल सकता हे इसका क्या फायदा। मेटावर्स के बारे में भी ऐसा ही है क्योंकि अगर हम अभी इसके बारे में सीखना शुरू नहीं करते हैं, तो हम भी भविष्य में  अपने जीवनमे बुनी हुई इस नई तकनीक के साथ नहीं चल पाएंगे और हमें पीछे छूटने का पछतावा होगा। इसलिए नए नए शब्द जानें। यदि टेक्नॉलजी में बहुत गहराई तक नहीं जाना चाहते हैं, तो बस अपने काम का ही जानें , लेकिन सीखते रहें। मेटामित्र के यूट्यूब चैनल से जुड़े रहें।  

मेरा मित्र मेटा मित्र. जय हिन्द जय भारत.